Manifesto for Agile Software Development (in Hindi)

चपल संगणक भाष्य विकास के लिये घोषणा पत्र

हम निरंतर संगणक भाष्य विकास की उन्नत तकनीकों की खोज कर रहे हैं और अन्य जनों की इस खोज में सहायता कर रहे हैं ।

इस शोध के आधार पर हम

प्रक्रियाओं और उपकरणों की बजाय मानव और उनके पारस्परिक संवाद
व्यापक प्रलेखन की बजाय सक्रिय संगणक भाष्य
आनुबंधिक वाद विवाद की बजाय ग्राहक सहयोग
स्थिर योजना की बजाय परिवर्तन अनुकूल प्रतिक्रिया

को ज्यादा कारगर मानते हैं ।

हालांकि बायीं और दिए गए विषय भी महत्तवपूर्ण हैं, परंतु दाएं दिए गए विषयों का महत्व ज्यादा है ।

12 सिद्धांत
  1. हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता जल्द और निरंतर संगणक भाष्य वितरण के द्वारा ग्राहक को संतुष्ट करना है
  2. बदलती जरूरतों का संगणक भाष्य विकास के अमृत काल तक भी स्वागत करें। चपल प्रक्रियाएं परिवर्तन का ग्राहक के लाभार्थ प्रयोग करती हैं ।
  3. दो सप्ताह या दो महीने के भीतर निरंतर संगणक भाष्य का वितरण करें। कम समय सीमा ज्यादा अपेक्षित है ।
  4. वाणिज्यिक गणमान्य एवं विकास मंडल के सदस्यों का परियोजना के दौरान प्रतिदिन साथ काम करना अपेक्षित है।
  5. परियोजना में उत्साही व्यक्तियों का समावेश करें। उन्हें अनुकूल माहौल व सहायता प्रदान करें और उनकी काम संपूर्ण करने की क्षमता पर विश्वास रखें ।
  6. विकास मंडल के सदस्यों से संवाद का सबसे अनुकूल तरीका उनके सम्मुख हो कर संवाद करना है ।
  7. सक्रिय संगणक भाष्य ही प्रगति की प्रमुख निशानी है ।
  8. चपल प्रक्रियाएं सतत विकास को बढावा देती हैं।  ग्राहक,  विकास टोली और उपयोगकर्ताओं को मिलकर विकास की एक स्थिर गति रखनी चाहिए ।
  9. तकनीकी उत्कृष्टता और अच्छी संरचना चपलता बढ़ाती हैं।
  10. सादगी– गागर में सागर भरना- अत्यंत महत्वपूर्ण है।
  11. सबसे अच्छी वास्तु, जरूरतें और सरंचना स्वावलंबी समूहों के द्वारा विकसित किए जाते हैं ।
  12. नियमित अंतराल पर विकास मंडल के सदस्यों को अपनी प्रभावशीलता परखनी चाहिए और उससे उत्तरोत्तर बढ़ाने के लिए अपने व्यवहार में परिवर्तन करना चाहिए ।

One thought on “Manifesto for Agile Software Development (in Hindi)

  1. Sujith Prasad

    Very useful information to constantly be aware of customer needs and change as per that.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.